Donald trump की जिद,रुपए की मजबूती खा जाएगी भारतीयों की नौकरी | what is H1B visa?

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ‘बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन’ अभियान के तहत H1-B वीजा नियमों को सख्त कर दिया साल 2016 से पहले H1B वीजा के लिए फीस 2000 डॉलर थी लेकिन 2016 में ट्रम्प सरकार ने इसे बढ़ा कर 6000 डॉलर कर दिया. इससे भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों को न केवल बढ़ते खर्चो का सामना करना पड़ेगा, बल्कि स्वदेश में कई कर्मचारियों को नौकरी से निकालना भी पड़ सकता है।

 

रुपए की मजबूती से बढ़ी परेशानी

इसका बड़ा कारण है रुपये की मजबूती , रुपये की मजबूती से प्रौद्योगिकी कंपनियों की परेशानी और बढ़ेगी। रुपए के मजबूत होने के कारण जैसे-जैसे कीमतें बढ़ेंगी भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों को कर्मचारियों को हटाने को मजबूर होना पड़ेगा।एसोचैम के महासचिव डी.एस.रावत के अनुसार ‘ऐसी स्थिति में छंटनी की स्पष्ट संभावना है।’पिछले तीन महीनों में, भारतीय करेंसी डॉलर के मुकाबले ५ फीसदी मजबूत हुई है, जिसके कारण निर्यात संबंधित अन्य क्षेत्रों के अलावा सॉफ्टवेयर निर्यात से होने वाले राजस्व में भी कमी आई है।

भारत भेजे जाने वाले धन में आएगी कमी

अमेरिका में भारतीयों द्वारा अपने देश भेजे जाने वाले धन में कमी होगी, जिससे भुगतान संतुलन को नुकसान पहुंचेगा। वर्ल्ड बैंक के आंकड़ों के मुताबिक, साल २०१५ में नौकरी से अर्जित आय भारत को भेजने के मामले में अमेरिका का दूसरा स्थान था।इसमें पहले नंबर पर सऊदी अरब था, इस दौरान, भारत को कुल आने वाली आय का करीब 16 फीसदी अमेरिका से मिला था। एक पेपर के मुताबिक, कंप्यूटर जगत में 86 फीसदी H1-B वीजा भारतीयों को जारी होता रहा है। अब यह आंकड़ा 60 फीसदी या उससे भी कम हो सकता है।

क्या है H1B Visa ?

एच वन बी वीजा किसी दुसरे देश के नागरिको को USA में काम करने के लिए दिया जाता है जो की अस्थाई वीजा होता है यानि की वीजा की अवधि 3 साल या 6 साल होती है दूसरे शब्दों में कहें तो एच वन बी वीजा एक रोजगार आधारित वीजा है जो की अस्थाई रूप से काम करने वालों को दिया जाता है और यह वीजा गैर आप्रवासी वीजा की श्रेणी में आता है,

 

अगर आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे फेसबुक ,गूगल +,ट्व्वीटर और व्हाटसअप पर शेयर जरूर करे और भी बिजनेस अपडेट्स के लिए  ariclehouses.com पर नये पोस्ट चेक करते रहे।किसी अन्य तरह की जानकारी और निर्देशों के लिए हमारे कमेंट सेक्शन में कमेंट जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *